The Intelligent Investor

The Intelligent Investor (बुद्धिमान निवेशक)




बेंजामिन ग्रेहाम के द्वारा लिखी गयी इस किताब को शेयर मार्किट की BIBLE के रूप में भी जाना जाता है!ये दुनिया की शेयर बाजार पर लिखी गयी सबसे बेहतरीन किताबों में से एक है! इस समरी में सारी बाते बताना मुमकिन तो नहीं है पर में जरूर कोशिश करूँगा !

तो में बस इसमें आपको जरुरी बाते बताऊंगा शेयर बाजार के बारे में जो बेंजामिन ग्राहम आपको बताना चाहते थे !









शेयर बाजार क्या होता है ?

बहुत से लोग सोचते हैं कि शेयर बाजार वो जगह है या ऐसा बाज़ार है जहाँ पैसों को  INVEST किया जाता है !चाहें फायदा हो या नुकसान ? तो ऐसा नहीं है!

जबकि बेंजामिन ग्रेहाम  के अनुसार एक अच्छा INVESTMENT MARKET आपके पूरे पैसे को profit के साथ वापसी का विश्वास देता है अगर थोड़ी सी समझदारी से INVEST किया जाए !बेंजामिन ग्राहम कहते हैं कि शेयर बाजार में पैसा लगा कर सिर्फ वही लोग नुक़सान उठाते हैं जो अपने पैसे को  शेयर बाजार में कैसे INVEST किया जाए इस बारे में पूरी जानकारी नहीं रखते हैं |


1) जो व्यक्ति अपनी भावनाओं पर नियंत्रण नहीं रखते हैं, वे शेयर बाजार से फायदा कमाने के मामले में कमजोर साबित होते हैं |


2) बेंजामिन लिखते हैं कि अपना पैसा निवेश करने के लिए आप बहुत बुद्धिमान हों या आपका आईक्यू लेवल बहुत ज्यादा हो इसकी आवश्यकता नहीं है! लेकिन इसमें निर्णय लेने की क्षमता होनी चाहीये तथा ज्ञान और शेयर बाजार के उतार-चढ़ाव को अच्छे से समझने की जरूरत है ! सही निर्णय और अपने भावनात्मक निर्णय सीमित करने की आवश्यकता है !


यह विश्लेषण और प्रिंसिपल पर निर्भर करता है! सुरक्षा और satisfactory returns का वादा करता है। इन जरूरतों को पूरा नहीं करने वाले OPERATION सट्टा हैं | यदि आप इन चीजों को समझे बिना पैसा निवेश करते हैं, तो यह केवल एक सट्टा होगा !



आता एक उदाहरण जर तुम्हाला एखादी कंपनी विकत घ्यायची असेल तर दोन पद्धतीने विकत घेऊ शकता

१)एक तर कंपनी चा मालक जी किंमत मागेल ती कोणताही विचार न करता देऊ शकता किव्हा

२)त्या कंपनी चा सर्व माल त्यात काम करणाऱ्या कामगारांचा अभ्यास आणि कंपनी चे कर्ज देणी इत्यादी सर्व गोष्टींची किंमत तुम्ही त्याला देऊ शकता.

पहिले उदाहरण म्हणजे कोणताही अभ्यास न करता पैसे शेर बाजार मध्ये इन्व्हेस्ट करणे दुसरा म्हणजे अभ्यास करून करणे ! तुम्ही कसे कराल आता?


जब आप कोई शेयर खरीदे , तो उसके पीछे एक मजबूत reason होना चाहिए | आपको यह पता होना चाहिए कि जो पैसा आप बाजार में लगा रहे है , वो कितना फायदा आपको दिलाएगा ! सामान्य INVESTORS  को सट्टे में रूचि नहीं दिखानी चाहिए!


ग्राहम अच्छा निवेश करने के लिए 3 सिद्धांतों की रूपरेखा तैयार करता है!

1) शेयर बाजार का अध्ययन(ANALYSIS)


किसी भी शेयर को खरीदने से पहले आपको कंपनी और उसके भविष्य का अध्ययन करना चाहिए ताकि आप उसमें निवेश कर सकें और पैसा कमा सकें। उदाहरण के लिए, यदि आप देखते हैं कि आप मोबाइल फोन खरीदते समय कितनी चीजें खरीदते हैं, तो समझें कि शेयर खरीदते समय आपको कितनी सावधानी से अध्ययन करना चाहिए।


2)सिद्धांतों की सुरक्षा (SAFETY OF PRINCIPLES)



इसका मतलब है कि आपका निवेश बहुत सुरक्षित होना चाहिए! यदि आप पैसा कमा रहे हैं, तो आपको कुछ अच्छे रिटर्न मिलने चाहिए, अन्यथा नुकसान न करने के लिए निवेश न करना बेहतर है। पैसा एक कंपनी है जो कुछ के लिए भुगतान करती है कल्पना कीजिए कि आप एक निर्माण व्यवसाय में हैं। आपने पुल का निर्माण करने के लिए अनुबंध किया, जो 8 टन तक का भार ले जा सकता है अब, एक ठेकेदार के रूप में, आप पुल को 2 टन अधिक धारण क्षमता के साथ बनाने पर विचार कर सकते हैं ताकि पुल किसी भी घटना के दौरान गिर न जाए। कुल मिलाकर, आप 10 टन की कुल धारण क्षमता वाले पुल का निर्माण करेंगे यहां, अपने 2 टन अधिक पुल का निर्माण एक सुरक्षा मार्जिन है।


अगर आप पंजाब नेशनल बैंक घोटाले को देखें घोटाले से पहले, शेयर की कीमत 60 रुपये थी और बाद में यह 1 रुपये रह गई। तो इसके लिए बाजार का अध्ययन होना आवश्यक है


3) पर्याप्त रिटर्न(ADEQUATE RETURN)



आपको हमेशा इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि SHARE MARKET कोई जादू नहीं है जहाँ जैसे ही आप पैसा लगाएंगे आप करोड़पति बन जाएंगे या पैसा 10 गुना हो जाएगा। अगर ऐसा हुआ तो गरीबी नहीं होगी आप किसी भी STOCK से अधिकतम 10 से 12% लाभ प्राप्त कर सकते हैं बहुत से लोग सोचते हैं कि पैसा डबल होगा जो पूरी तरह से गलत है। अगर कोई कहता है कि आपको इस पर ध्यान नहीं देना चाहिए।

सबसे अच्छा उदाहरण हम चिट फंड कंपनियों के बारे में ले सकते हैं जो लोगों को पैसे को धोखा देते हैं और लोग अपने पैसे का निवेश करते हैं। थोड़ी देर बाद, कंपनी पैसे लेकर भाग जाती है

निवेश और सट्टेबाजी के बीच के अंतर को समझने में आपकी मदद करने के लिए यहां 3 अंक दिए गए हैं मेरी राय में, जो व्यक्ति बेंजामिन गृहम द्वारा बताए गए इन 3 बिंदुओं को ध्यान में रखते हुए अपने पैसे का निवेश करता है, उसे INVESTOR कहा जाएगा और वह जिसे बुकी नहीं कहा जाएगा।


1)निवेशक अपने पैसे को सटीक विश्लेषण के माध्यम से निवेश करता है

2)एक सच्चा निवेशक कम से कम 3 साल या उससे अधिक समय के लिए अपना स्टॉक रखता है।

3)हमेशा अपने खुद के पैसे का उपयोग करें।

4)एक अच्छा निवेशक सक्रिय रूप से व्यवहार करता है और देखभाल करता है।

5)सट्टेबाज हमेशा अपनी किस्मत के अनुसार पैसा निवेश करते हैं और सोचते हैं कि अगर भाग्य है तो वे अमीर बन जाएंगे।

6)बुकी जल्द से जल्द पैसा वापस पाना चाहता है और भागने की कोशिश करता है।

7)सट्टेबाज बहुत जोखिम लेते हैं जबकि सट्टेबाज़ लोगों को बेवकूफ बनाकर या बाजार से पैसा लेकर निवेश करते हैं।

8) सट्टेबाज हमेशा लापरवाही करते हैं।


किसी कंपनी के काम को उसके शेयर की कीमतों से नहीं आंका जा सकता क्योंकि SHARE MARKET में कीमतें ऊपर और नीचे जाती हैं और कुछ भी हो सकता है इसलिए, शेयर खरीदते समय, किसी को कंपनी के मूल्य को देखना चाहिए न कि शेयर को!


आइए एक उदाहरण लेते हैं: -

आप सभी को खबर याद है जब यह सुना गया था कि मैग्जी में एलईडी और कई खतरनाक रासायनिक तत्व पाए गए हैं। तो उस समय में MAGGI निर्माण कंपनी NESTLE ने MAGGI के सभी पैकेट वापस ले लिए जो बाजार में थे, जिसके कारण कंपनी के शेयर को बहुत नुकसान हुआ और वे तेजी से नीचे गए। जब कंपनी के शेयरों में गिरावट आई तो उन्हें निराशा या दुख का समय कहा जा सकता है कुछ समय बाद, सभी परीक्षणों को पारित करते हुए, मैग्जीआई फिर से बाजार में आया और इसके शेयर की कीमत पहले से भी अधिक बढ़ गई। इसलिए ऐसे समय में जब कंपनी घाटे में चल रही थी, लेकिन फिर भी इस पर विश्वास करने वाले लोगों ने अपने पैसे का निवेश किया, इससे बहुत लाभ हुआ। बस आपको ध्यान से देखने की जरूरत है




मुझे उम्मीद है कि आपको BENJAMIN GRAHAM की book THE INTELLIGENT INVESTOR पर बना हुआ सारांश आपको जरूर पसंद आया होगा

3 views